संकट प्रबंधन टीम की बैठक होगी जल्द: सरकार 21 जनवरी तक अधिकतर प्रतिबंध हटाने को तैयार नहीं

[ad_1]

बिहार में कोरोना की तीसरी लहर के बाद सरकार ने 21 जनवरी तक कई तरह की पाबंदियां लगाईं। ताकि कोरोना से निपटा जा सके। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी समाज सुधार अभियान यात्रा के साथ ही जनता दरबार को भी स्थगित कर दिया। बाद में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार खुद कोविड पॉजिटव हो गए थे। अब वे निगिटेव हो चुके हैं। 21 तक लगी पाबंदियों को लेकर अब क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक होने वाली है। लेकिन कोरोना की स्थिति को देखते हुए नहीं लग रहा कि सरकार की ओर से इसमें ज्यादा बदलाव फिलहाल किए जाएं।

उम्मीद है कि जनता दरबार अभी स्थगित रहेगा और मुख्यमंत्री समाज सुधार यात्रा पर भी नहीं फिलहाल नहीं जाएंगे। स्कूलों का संचालन जिस तरह से अभी हो रहा है उसे जारी रखा जाएगा। भक्तों को अभी राहत नहीं मिलेगी क्योंकि मंदिर नहीं खोले जाएंगे। शॉपिंग मॉल, सिनेमा हॉल, जिम, पार्क आदि बंद रहेंगे। दुकानें अभी रात 8 बजे तक ही खुली रह रही हैं। इसे अभी इसी तरह जारी रखने की उम्मीद है। खरमास खत्म हो चुका है और शादियों का समय आ गया है, लेकिन इसमें अधिक लोगों की मेहमान नवाजी को मौका अभी नहीं मिलेगी। 50 मेहमानों के साथ शादी करने की छूट अभी है। इस सब के बावजूद लोगों को सरकार की ओर से जारी होने वाली नई गाइडलाइन का इंतजार है।

 

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Leave a Comment